250 साल पुराना मंदिर अतिक्रमण बताकर तोड़ा, गौशाला पर भी चलाया बुलडोजर

    0
    140

    पूरे देश इस समय बुलडोजर चर्चा में हैं. कई राज्यों में गुंडों में बुलडोजर का खौफ है तो कई राज्यों में बुलडोजर के नाम पर सियासी पारा हाई है. वहीं 17 अप्रैल को राजस्थान के अलवर जिले में गहलोत सरकार का बुलडोजर 250 साल पुराने मंदिर पर चल गया. अलवर जिले के राजगढ़ में आने वाला यह मंदिर 250 साल पुराना था. इस मंदिर को अतिक्रमण बताकर तोड़ दिया गया. मंदिर प्रशासन ने इसकी शिकायत पुलिस से की है.

    मंदिर प्रशासन का कहना है कि प्रशासन ने अतिक्रमण बताकर मंदिर तोड़ दिया. इतना ही नहीं मंदिर के शिवलिंग को कटर से काटा गया. मंदिर प्रशासन ने कांग्रेस विधायक के साथ तीन पुलिस अधिकारियों के खिलाफ थाने में शिकायत दर्ज की है. वहीं इस मामले में बीजेपी ने गहलोत सरकार पर आरोप लगाया है. भाजपा ने कहा कि यह गहलोत सरकार की औरंगजेब की मानसिकता है.

    सोशल मीडिया पर वायरल हैं इसकी तस्वीरें- बता दें कि 17 अप्रेल को राजगढ़ के इस मंदिर पर प्रशासन की टीम बुलडोजर की टीम पहुंची थी. यहां पहुंचे बुलडोजर ने कुछ ही सेकेंड्स के अंदर मंदिर के गुंबज को तोड़ दिया. इसके बाद शिवलिंग को कटर की मदद से काटा गया. इसकी तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं.

    बता दें कि यह मंदिर 250 साल पुराना बताया जा रहा है. ब्रज भूमि कल्याण परिषद ने राजगढ़ के कांग्रेस विधायक जौहरीलाल मीणा और प्रशासन के खिलाफ तीन मंदिर तोड़ने का आरोप लगाया. कांग्रेस विधायक एसडीएम और नगरपालिका के सीआईओ के खिलाफ राजगढ थाने में शिकायत दर्ज करा दी.

    हनुमान गौशाला पर भी चला बुलडोजर- जानकारी के मुताबिक कठूमर में एक हनुमान गौशाला पर भी बुलडोजरबुल्डोजर चलाने की खबर सामने आई है. जबकि कहा जा रहा है कि इस गौशाला को जिला कलेक्टर ने अनुदान भी दिया था. बुलडोजर चलने से गाएं बाहर दौड़ती नजर आईं. वहीं भाजपा ने इसको लेकर गहलोत सरकार पर हमला बोला है. भाजपा ने कहा कि कांग्रेस सरकार में पहले भी मंदिर टूटने की घटनाएं देखी गईं हैं.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here