यह 8 मशहूर भारतीय जिनका जन्म तो पाकिस्तान में हुआ था, लेकिन भारत के लिए अपनी जन्मभूमि भी छोड़

    0
    1299

    अगर इंटरनेट पर गंदगी को हटा दिया जाये तो भारत के लोगो में जितना भाईचारा है वो किसी और देश में नहीं है। हमने कई बार खबरें पड़ी है विदेश की कंपनियों में भारतीयों को करोड़ो का पैकेज मिलने के बाद भी वह भारत में काम करके देश की तरक्की करना चाहता है। कई ऐसे मशहूर चेहरे भी है जिनका जन्म तो पाकिस्तान में हुआ है लेकिन उन्हें भारत की मिटटी के लगाव से था। तो चलिए जानते है उन सभी के बारे में।

    अदनान सामी- अदनान सामी एक जाने-माने सिंगर हैं। अदनान सामी हिंदुस्तान में अपना करियर बनाने आये थे। इसके बाद उन्होंने यहीं बसने का फ़ैसला लिया। कुछ समय पहले ही उन्होंने भारत की नागरिकता ले ली है। अदनान सामी का जन्म 15 अगस्त 1971 को पाकिस्तान के लाहौर शहर में हुआ था। साल 2015 में अदनान सामी को भारतीय नागरिकता मिल गयी थी।

    साहिर लुधियानवी- साहिर लुधियानवी एक लोकप्रिय गीतकार और शायर थे, जिनका असली नाम अब्दुल हयी साहिर था। कवि का जन्म लुधियाना में हुआ था, लेकिन 1943 में वो लाहौर चले गये थे। उन्होंने उर्दू पत्र अदब-ए-लतीफ़ और शाहकार में बतौर संपादक भी काम किया। इसके बाद वो द्वैमासिक पत्रिका सवेरा के साथ भी जुडे़। कहा जाता है कि वहां उन्होंने एक रचना लिखी, जिसे सरकार के खिलाफ़ माना जाने लगा। इसलिये उन्हें पाकिस्तान सरकार की तरफ़ वारंट जारी कर दिया। 1949 में साहिर दिल्ली आ गये और इसके बाद मुंबई शिफ़्ट हो गये।

    लाल कृष्ण अडवाणी- लाल कृष्ण आडवाणी बीजेपी के वरिष्ठ नेता हैं। उन्होंने भारतीय जनता पार्टी की नींव रखने में भी सहयोग दिया है। आडवाणी जी का जन्म भी पाकिस्तान के कराची में हुआ था, लेकिन विभाजन के बाद वो हिंदुस्तान में बस गये थे।

    युसूफ़ ख़ान ऊर्फ़ दिलीप कुमार- बॉलीवुड के अभिनेता दिलीप साहब का जन्म पाकिस्तान के पेशावर में हुआ था। वो विभाजन से पहले ही बॉलीवुड में अपनी जगह बना चुके थे। इसके बाद जब भारत-पाक का विभाजन हुआ, तो भी उन्होंने पेशेश्वर की वापसी नहीं की।

    जोगेंद्र नाथ मंडल- पाकिस्तान के पहले श्रम और कानून मंत्री जोगेंद्र नाथ मंडल अनुसूचित जाति के नेता और मुस्लिम लीग के सहयोगी थे। वहां हिंदुओं के प्रति सौतेला व्यवहार देख कर जोगेंद्र नाथ मंडल भारत वापस आ गये थे।

    बेग़म पारा- बेग़म पारा हिंदुी सिनेमा की जानी-मानी अभिनेत्री थीं। 1940s और 1950s के दौरान उन्होंने बॉलीवुड में अपने अभिनय से पहचान बनाई है। अपनी एक्टिंग से दर्शकों के दिलों पर राज करने वाली बेग़म पारा पाकिस्तान के झेलम शहर से थीं।

    उस्ताद बड़े गुलाम अली ख़ान- उस्ताद बड़े गुलाम अली ख़ान गायिकी की दुनिया का बड़ा नाम थे, जिनके गीत आज भी लोगों के दिलों को सुकून देते हैं। गायक का जन्म पाकिस्तान के कसूर में हुआ था।

    मनमोहन सिंह- पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का जन्म भी पाकिस्तान में हुआ था, जो बाद में भारत आये और अब दुनिया उन्हें उनके काम से जानती है।

    इन सभी लोगो के बारे में जानकर आपको कैसा लगा हमें निचे कमेटं सेक्शन में जरूर बताइये। अगर हमने किसी का नाम छोड़ दिया हो या कोई गलत इन्फॉर्मेंशन दी हो तो आप हमें कमेंट करके बता सकते है। इसके अलावा अगर आपको पास हमारे लिए कोई सवाल और सुझाव है तो आप ईमेल के जरिये हमसे संपर्क कर सकते है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here