देवा गुर्जर हत्याकांड मामले में एक आरोपी भैरुलाल है फरार, पुलिस ने रखा 5000 रुपये का इनाम

    0
    151

    बहुचर्चित हिस्ट्रीशीटर देवा गुर्जर हत्याकांड मामले में फरार चल रहे आरोपी भैंरूलाल पर पुलिस ने 5000 रुपये का इनाम घोषित कर दिया है. देवा गुर्जर हत्याकांड में फरार चल रहा आरोपी भैंरूलाल गुर्जर मुख्य आरोपी बाबूलाल गुर्जर का बड़ा भाई है. पुलिस ने अपील की है कि आरोपी भैंरूलाल के बारे में सूचना देने वाले व्यक्ति का नाम गुप्त रखा जाएगा. वहीं पुलिस भैंरूलाल की संपत्ति को कुर्क करने की कार्रवाई भी कर रही है. देवा गुर्जर की हत्या के मामले की जांच कर रही एसआईटी ने इस केस में नामजद 23 आरोपियों में से 22 को गिरफ्तार कर लिया है. अब केवल भैंरूलाल ही फरार चल रहा है.

    पुलिस ने देवा गुर्जर हत्याकांड में पहले चरण में पकड़े गये मुख्य आरोपी बाबू गुर्जर को सोमवार को जेल भिजवा दिया है. हत्याकांड के 15 आरोपियों को पहले ही जेल भेजा जा चुका है. दो दिन पहले पकड़े गये छह अन्य आरोपियों को पुलिस ने 22 अप्रेल तक रिमांड पर ले रखा है. उनसे पूछताछ चल रही है. आरोपियों से फरार आरोपी भैंरू के बारे में भी कड़ाई से पूछताछ की रही है लेकिन अभी तक किसी से भी उसका कोई सुराग नहीं दिया है.

    भैंरू के संभावित ठिकानों पर दी जा रही है दबिशें- पुलिस उपाधीक्षक अमर सिंह ने बताया कि फरार आरोपी भैंरूलाल की तलाश के लिए उसे संभावित ठिकानों पर लगातार दबिश दी जा रही है. आरोपियों से अभी वारदात में काम लिया गया हथियार भी बरामद किया जाना है. देवा गुर्जर की हत्या के आरोप में पुलिस ने अब तक 22 आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है.

    अब खंगाले जायेंगे आरोपियों के मोबाइल- पुलिस उपाधीक्षक सिंह ने बताया कि इनमें से अधिकांश को मुकुंदरा हिल्स और दर्रा के जंगलों से गिरफ्तार किया गया है. अब आरोपियों के जब्त किये गये मोबाइल्स से डाटा का विश्लेषण कर जांच की जायेगी. वहीं वारदात को अंजाम देने में और कौन-कौन लोग शामिल थे इसको लेकर भी जांच तेजी से आगे बढ़ रही है.

    देवा गुर्जर के खिलाफ कई थानों में मामले दर्ज हैं- उल्लेखनीय है कि देवा गुर्जर की पिछले दिनों रावतभाटा में दिनदहाड़े हत्या कर दी गई थी. देवा गुर्जर कोटा के आरकेपुरम थाने का हिस्ट्रीशीटर था. उसके खिलाफ कोटा और रावतभाटा समेत कई थानों में मामले दर्ज हैं. ठेकेदारों से अवैध वसूली, प्रॉपर्टी विवाद और अन्य लेनदेन को लेकर हथियारों से लैस बदमाशों ने हिस्ट्रीशीटर देवा गुर्जर को मौत के घाट उतार दिया था.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here