देवा गुर्जर की मौत के मामले में हुआ बड़ा खुलासा, इसलिए दी गई थी देवा खतरनाक मौत

0
403

कोटा के देवा गुर्जर हत्याकांड के बाद चित्तौडगढ़ पुलिस ने लगभग सभी खुलासे कर दिए हैं। देवा की हत्या क्यों की गई थी इसका भी खुलासा हुआ है। देवा को मारने वालों में उसके खास दोस्त और नजदीकी लोग शामिल हैं। तेरह लोगों में से अब 9 को पकडा जा चुका है और अन्य की तलाश में गांव, कस्बों से लेकर जंगलों तक छापेमारी की जा रही है। पकडे गए 9 लोगों को 13 अप्रेल तक रिमांड पर लिया गया है। उनसे पूछताछ की जा रही है। इस बीच एसआईटी का गठन भी कर दिया गया है। पुलिस के पास एसआईटी ने भी रावतभाटा में सीन रिक्रियेट किया है।

देवा को मारना नहीं चाहते थे लेकिन उसने रुपए नहीं दिए…. वह आगे बढ़ रहा था- प्रारंभिक जांच में सामने आया कि देवा की हत्या उसके विरोधी गुट और उसके दोस्तों ने ही मिलकर की है। उनसे पूछताछ में सामने आया कि देवा ठेके पर लेबर उपलब्ध कराने का काम करता था। रावतभाटा में भी उसने बड़ी संख्या में लेबर लगा रखी थी। उसके कुछ दोस्त उससे कुछ समय से रुपए मांग रहे थे। करीब पांच से सात लाख रुपए देवा से उसके दोस्त मांग रहे थे। लेकिन देवा ने रुपए नहीं दिए थे।

500 से ज्यादा लोगों पर केस दर्ज- देवा की हत्या के बाद जब कोटा में एमबीएस अस्पताल के बाहर बवाल हुआ और आगजनी हुई तो उसके बाद पुलिस ने कई केस दर्ज किए हैं। पांच सौ से भी ज्यादा लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर अब वीडियो और अन्य माध्यमों से उनकी तलाश की जा रही है। बताया जा रहा है कि इनमें से अधिकतर अन्य शहरों के निवासी थे। जो सोशल मीडिया पर वारयल हुए मैसेज के बाद कोटा पहुंचे थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here