बॉलीवुड को महेश भट्ट ने बोल्ड होना सिखाया था, देखिये इनकी शानदार फिल्में

0
2281

महेश भट्ट ने बॉलीवुड इंडस्ट्री में डायरेक्टर, प्रोडूसर, राइटर और अलग प्रकार की फिल्में बना कर पहचान बनाई है। महेश भट्ट ने ही बॉलीवुड को बोल्डनेस का सही मतलब बताया है। महेश भट्ट ने इंडस्ट्री में तब कदम रखा था जब लोगों का सिनेमा देखने का एक स्तर था। पिछली जितनी भी फ़िल्में बन चुकी थी ज़्यादातर फिल्ममेकर्स उसी कांसेप्ट को फॉलो कर वैसी ही फ़िल्में बना रहे थे। लेकिन बतौर डायरेक्टर डेब्यू करने के बाद इन्होंने उस स्तर को और ऊँचा उठा दिया।

उस समय फिल्मों में बोल्ड सीन का होना किसी हंगामे से कम ना था। लेकिन महेश भट्ट के द्वारा किये इस बड़े बदलाव को लोगों ने खूब पसंद किया। 20 सितम्बर 1948 को मुंबई में जन्मे महेश ने इंडस्ट्री को ‘आशिकी’, ‘सड़क’, ‘जख्म’ जैसी बेहतरीन फ़िल्में दी। आज फिल्म मेकर अपना 73 वां जन्मदिन मना रहे हैं. इस खास मौके पर उनकी कुछ बेहतरीन फ़िल्में-

सड़क: महेशा भट्ट ने साल 1991 में अपनी बेटी पूजा भट्ट और संजय दत्त के साथ फिल्म बनाई ‘सड़क’। एक साधारण सी कहानी से इस तरीके से पेश किया गया था कि फिल्म उस साल की सबसे ज़्यादा कमाई करने वाली फिल्म और 90 के दशक में उन 5 फिल्मों में शामिल थी जिसने सबसे ज़्यादा कमाई की। इसी फिल्म ने संजय दत्त का असली स्टार बनाया। इस फिल्म ने कई अवार्ड अपने नाम किये थे। फिल्म में विलेन के किरदार को निभाने के लिए सदाशिव को बेस्ट विलेन चुना गया था।

अर्थ: 1982 में रिलीज़ हुई शबाना आज़मी, कुलभूषण खरबंदा और स्मिता पाटिल स्टारर फिल्म अर्थ आज भी लोगों के ज़हन में बसी हुई है। अपने वक़्त से कई आगे ये फिल्म प्यार, धोखे पर बेस्ड थी। फिल्म का म्यूजिक हो या शानदार कहानी सब कुछ दमदार था। उस समय इस फिल्म को डायरेक्टर महेश भट्ट और परवीन बाबी की लव स्टोरी से जोड़ कर देखा गया था। फिल्म आज भी उतनी ही शानदार है।

हम है राही प्यार के: इस फिल्म में जूही चावला और आमिर खान की जोड़ी को खूब पसंद किया गया था। ये एक फैमिली फिल्म थी जो अब तक टीवी पर हमारा मनोरंजन करती है। फिल्म ने बेस्ट फिल्म का अवार्ड भी अपने नाम किया था।

आशिकी: साल 1990 में आई फिल्म ‘आशिकी’ उस दौर की सबसे सफल फिल्म थी। इस फिल्म को महेश भट्ट ने डायरेक्ट किया था। फिल्म का म्यूजिक आज भी सुपरहिट है। यही वो फिल्म थी, जिसने अनु अग्रवाल और राहुल रॉय को रातोंरात सुपरस्टार बना दिया था। फिल्म का हर सीन जबरदस्त हित हुआ और म्यूजिक तो आज भी कानों में गूंजता है। इस फिल्म ने 4 फिल्मफेयर अवार्ड जीते थे। फिल्म की सफलता का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इसी फिल्म की तर्ज पर ‘आशिकी 2’ भी बनाई गई थी। जो जबरदस्त हिट हुई।

ज़ख़्म: हिंदी फिल्म इंडस्ट्री को ‘ज़ख्म’ के रूप में एक अनोखी फिल्म दे दी। जो दोबारा कभी नहीं बनाई जा सकती। दो श्रम को बीच में लिए ये फिल्म समाज में एक मेसेज देती है। इस फिल्म के लिए अजय देवगन को नेशनल अवार्ड से सम्मानित किया गया था।

राज़: साल 2002 में बिपाशा बसु और डीनो मोरेया को लेकर फिल्म आई ‘राज़’। ये नए ज़माने की डरावनी फिल्म थी। फिल्म के डरावने सीन देख कर आज भी हाथ-पैर कांप जाते हैं। इसके साथ ही इसी फिल्म केजरिए बोल्ड सीन्स की शुरुआत हो गई थी। लेकिन ये फिल्म महेश भट्ट ने डायरेक्ट नहीं की थी। महेश भट्ट ने इस फिल्म को प्रोड्यूस और इसकी स्क्रिप्ट लिखी थी।

इन सभी बॉलीवुड फिल्मों के बारे में जानकर आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताइये। अगर आपके पास हमारे लिए कोई सवाल और सुझाव है तो आप हमें ईमेल के जरिये संपर्क कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here