पहले बनाया करोड़पति बनाया लेकिन अब निवेशकों को कंगाल कर रहा है शेयर, कही अपने तो नहीं ख़रीदा

    0
    157

    शेयर बाजार में प‍िछले कुछ कारोबारी सत्र से ग‍िरावट का रुख चल रहा है. 30 अंक वाला सेंसेक्‍स शुक्रवार को र‍िकॉर्ड हाई से करीब 15 प्रत‍िशत नीचे 52,793.62 के स्‍तर पर आ गया. इसी तरह न‍िफ्टी भी 15,782 के स्‍तर पर बंद हुआ. इस दौरान ऐसे कई शेयर हैं ज‍िन्‍होंने प‍िछले द‍िनों न‍िवेशकों को बंपर र‍िटर्न द‍िया लेक‍िन अब उनमें पैसा लगाने वालों को नुकसान हो रहा है.

    हाई लेवल पर खरीदने वाले नुकसान में- प‍िछले साल कई पेनी स्‍टॉक ने न‍िवेशकों को बंपर र‍िटर्न द‍िया. न‍िवेशकों को लाखों लगाकर करोड़ों में फायदा हुआ. इस बीच एक पेनी स्‍टॉक ऐसा है, ज‍िसने पहले तेजी का र‍िकॉर्ड बनाया लेक‍िन अब तेजी से नीचे आ रहा है. अगर आपने सवा साल पहले इस स्‍टॉक में न‍िवेश क‍िया होगा तो आप आज भी फायदे में हैं लेक‍िन यद‍ि आपने इसे हाई लेवल पर खरीदा है तो आप नुकसान में हैं.

    35 पैसे में खरीदने वाले आज भी फायदे में- यह पेनी स्‍टॉक एग्रीकल्‍चर सेक्‍टर से जुड़ा हुआ है. एग्रीकल्‍चर सेक्‍टर से जुड़ी इस कंपनी का नाम प्रोसीड इंड‍िया है. 25 जनवरी 2021 को Proseed India का शेयर 35 पैसे का था. 20 अक्‍टूबर 2021 को यह शेयर बढ़कर 194 रुपये पर पहुंच गया था. 35 पैसे के स्‍तर पर यद‍ि क‍िसी ने इस शेयर में 1 लाख रुपये का न‍िवेश क‍िया होगा तो अक्‍टूबर में यह बढ़कर 5.5 करोड़ हो गए होंगे.

    52 हफ्ते का लो लेवल 1.40 रुपये- यद‍ि क‍िसी न‍िवेशक ने इस शेयर को 194 रुपये के हाई लेवल पर खरीदा होगा तो उसे इस समय भारी नुकसान है. यद‍ि क‍िसी ने 194 के लेवल पर इस शेयर में एक लाख रुपये न‍िवेश क‍िए होंगे तो अब ये घटकर करीब 32,500 रुपये रह गए. शेयर का 52 हफ्ते का हाई लेवल 194.50 और लो लेवल 1.40 रुपये का है.

    ग‍िरकर 63 रुपये पर आया शेयर- यद‍ि आपने इस शेयर में न्‍यूनतम लेवल पर न‍िवेश कि‍या है तो आप फायदे में हैं. लेक‍िन हाई लेवल पर इनवेस्‍ट करने वाले न‍िवेशक नुकसान में हैं. शुक्रवार को बंद हुए सत्र में यह शेयर हरे न‍िशान के साथ 63 रुपये के स्‍तर पर बंद हुआ. 52 हफ्ते का इस शेयर का लो लेवल 1.40 रुपये है.

    क्या करती है कंपनी- यह कंपनी एग्री कमोडिटीज के ट्रेडिंग और सीड कारोबार से जुड़ी हुई है. यह कई तरह के बीज और सब्जियों के लिए रिसर्च, डेवलपमेंट, उत्पादन,  प्रसंस्करण, मार्केटिंग और व्यापार में लगी हुई है. कंपनी की स्थापना 1991 में हुई थी और इसका मुख्यालय हैदराबाद में है.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here