अगर आपका भी है इन दोनों बैंक में अकाउंट, तो हो ना जाये आपका भारी नुक्सान

0
216

देश में आईसीआईसीआई बैंक (ICICI Bank) और एक्सिस बैंक (Axis Bank) दो बड़े प्राइवेट बैंक है. इन दोनों बैंकों में ही लाखों लोगों ने अपने बैंक अकाउंट खुलवा रखे हैं. वहीं इन दोनों बैंकों में थोड़ी-सी हलचल ग्राहकों के लिए काफी अहम साबित होती है. अब इन्हीं दोनों बैंकों से जुड़ी एक अहम जानकारी सामने आई है.

BCA किया अपग्रेड- वैश्विक रेटिंग एजेंसी मूडीज ने आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक के बेसलाइन क्रेडिट असेसमेंट (BCA) को “बीएए3” में अपग्रेड कर दिया है, जो “बीए1” से मध्यम ग्रेड की वित्तीय ताकत को दर्शाता है. बीसीए में अपग्रेड क्रेडिट फंडामेंटल- एसेट क्वालिटी, कैपिटल और प्रॉफिटेबिलिटी में सुधार को दर्शाता है.

इस रेटिंग में नहीं आएगा कोई बदलाव- दरअसल, मूडीज की निवेशक सेवा ने आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक के मूलभूत कर्ज आकलन (BCA) में सुधार किया है, जो कर्ज के मूलभूत कारकों विशेषकर परिसंपत्ति गुणवत्ता का बेहतर होना दर्शाता है. वैश्विक रेटिंग एजेंसी मूडीज ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि बैंकों के बीसीए को बीएए3 से सुधार कर बीए1 कर दिया है. हालांकि, इससे जमा रेटिंग में कोई बदलाव नहीं आएगा, जो भारत की सॉवेरन रेटिंग ‘बीएए3 स्थिर’ के स्तर पर ही है.

लाभ हुआ बेहतर- मूडीज ने कहा कि दोनों बैंकों के बीसीए को सुधारने के पीछे वजह परिसंपत्ति गुणवत्ता, पूंजी और लाभ का बेहतर होना है. उनकी परिसंपत्ति गुणवत्ता में उल्लेखनीय सुधार आया है और गैर निष्पादित कर्जों का सकल एवं शुद्ध अनुपात भी घट रहा है. इसके अलावा उनका लाभ भी बेहतर हुआ है.

बता दें कि आईसीआईसीआई बैंक और एक्सिस बैंक का परिसंपत्तियों पर रिर्टन मार्च 2022 तक क्रमश: 1.8 फीसदी और 1.2 फीसदी था. यह इससे पहले चार वर्षों तक और मार्च 2020 के अंत तक औसत 0.8 फीसदी और 0.4 फीसदी था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here