अगर आप भी बैंक ऑफ बड़ौदा के कस्टमर हैं तो आपके लिए बेहद जरूरी है ये नए नियम जानना जानिए क्या किया गया नियमों में बदलाव

अगर आप बैंक ऑफ बड़ौदा के कस्टमर हैं तो आपके लिए बेहद जरूरी है। BoB चेक संबंधि नियमों में बदलाव करने जा रहा है। दरअसल, 1 अगस्त, 2022 से बैंक ऑफ बड़ौदा के ग्राहकों के लिए पॉजिटिव पे कन्फर्मेशन नियम लागू होगा। अब बैंक ऑफ बड़ौदा के ग्राहकों को 5 लाख रुपये से अधिक के चेक में महत्वपूर्ण जानकारी को वेरिफाइड करने से पहले बैंक को इलेक्ट्रॉनिक रूप से पुष्टि करनी होगी।

क्या कहा बैंक ने- बैंक ऑफ बड़ौदा के ग्राहक को चेक को लाभार्थियों को सौंपने से पहले उसका डिटेल  देना होगा ताकि बैंक बिना किसी पुष्टिकरण कॉल के 5 लाख के चेक को भुगतान के लिए प्रस्तुत कर सके।  बैंक सर्कुलर के अनुसार, “01.08.2022 से पॉजिटिव पे कन्फर्मेशन को 05 लाख और उससे अधिक के चेक के लिए अनिवार्य किया जाएगा। अगर कंफर्मेशन नहीं होता है तो चेक को वापस किया जा सकता है।

जानिए क्या है पॉजिटिव पे सिस्टम- पॉजिटिव पे सिस्टम में तय रकम से अधिक वैल्यू वाले चेक की जानकारी बैंक को पहले से देनी होती है। बैंक भुगतान के पहले इसकी जांच करता है। यह एक ऑटोमेटेड फ्रॉड डिटेक्शन टूल है। आरबीआई की ओर से इस नियम को लागू करने का मकसद चेक का गलत इस्तेमाल रोकना है। पॉजिटिव पे सिस्टम के तहत चेक जारी करने वाले को SMS, इंटरनेट बैंकिंग, एटीएम या मोबाइल बैंकिंग के जरिए इलेक्ट्रॉनिकली चेक की डेट, बेनेफिशियरी का नाम, अकाउंट नंबर, कुल अमाउंट, ट्रांजेक्शन कोड और चेक नंबर की जानकारी बैंक को कन्फर्म करनी होगी। चेक पेमेंट से पहले इन जानकारियों को बैंक क्रॉस-चेक करेगा। अगर इसमें कोई गड़बड़ी पाई जाती है तो बैंक उस चेक को रिजेक्ट कर देंगे।

Leave a Comment