पेट्रोल और डीज़ल कार को भी इलेक्ट्रिक कार में बदल सकते है, बेहद कम पैसों में बदलवा सकते हो

0
154

देश में ईंधन की बढ़ती कीमत भारतीय ग्राहकों के लिए समस्या का कारण बन गई हैं, लोग जहां पहले पेट्रोल और डीजल वाहनों को खरीदते थे, वहीं अब इलेक्ट्रिक कारों की तरफ रुख कर रहे हैं, हालांकि वर्तमान में बाजार में कुछ ही वाहन कंपनियां ईवी की पेशकश करती हैं, और उनकी कीमत आम आदमी के बजट से बाहर होती है.

तो ऐसे में कैसे आप अपनी जेब पर पड़ने वाले ईंधन की कीमत के बोझ को कम कर सकते हैं. अब या तो आप इलेक्ट्रिक कार खरीदें, या फिर अपनी मौजूदा कार को इलेक्ट्रिक में बदल दें. अपने इस लेख में हम आपको बताने जा रहे हैं, कि कैसे आप अपने पेट्रोल या डीजल कार को इलेक्ट्रिक में बदल सकते हैं.

एक सामान्य कार को इलेक्ट्रिक कार में बदलने में कितना खर्च आएगा?- एक सामान्य कार को इलेक्ट्रिक कार में बदलने में 4 से 5 लाख रुपये का खर्च आता है, यह कीमत पूरी तरह से मोटर की वाट पॉवर और आपके द्वारा कार में इस्तेमाल की जा रही बैटरियों की क्षमता पर निर्भर करती है. साधारण वाहनों को इलेक्ट्रिक में बदलने का काम ज्यादातर हैदराबाद की कंपनियां करती हैं, यहां ध्यान देने वाली बात यह है, कि यह काम उन कंपनियों द्वारा किया जाता है जो इलेक्ट्रिक कारों के लिए पुर्जे बनाती हैं.

इलेक्ट्रिक कार बनाने का क्या है प्रोसेस- मोटर, नियंत्रक, रोलर्स और बैटरी का उपयोग करके सामान्य कारों को इलेक्ट्रिक कारों में परिवर्तित किया जा सकता है. आपकी कार की कीमत इस बात पर निर्भर करेगी कि आपने अपनी कार में कितनी किलोवाट की बैटरी और कितनी किलोवाट की मोटर लगाई है. 20 किलो वॉट की इलेक्ट्रिक मोटर और 12 किलो वॉट की लिथियम-आयन बैटरी की कीमत लगभग 4 लाख रुपये तक होती है.

पेट्रोल, डीजल या इलेक्ट्रिक कौन है किफायती- उदाहरण के तौर पर देखें तो Tata Nexon के पास तीनों विकल्प हैं: पेट्रोल, डीजल और इलेक्ट्रिक. Tata Nexon पेट्रोल और डीजल में 16 से 22 किलोमीटर का माइलेज देती है, यानी अगर पेट्रोल की कीमत 100 रुपये प्रति लीटर मानी जाए और माइलेज 16 किमी प्रति लीटर आता है, तो आपका खर्च प्रति किलोमीटर लगभग 6.25 पैसे होगा.

वहीं अगर डीजल को 95 रुपये प्रति लीटर और माइलेज को 22 किलोमीटर प्रति लीटर माना जाए तो आपका खर्च प्रति किलोमीटर करीब 4.31 रुपये होगा. इसके साथ ही Tata Nexon EV की बात करें तो फुल चार्ज होने पर यह 30.2 यूनिट बिजली खर्च करती है, अगर हम बिजली की लागत के रूप में 6 / यूनिट के हिसाब से फुल चार्ज होने में 181.2 रुपये खर्च होते हैं, वहीं फुल चार्ज पर नेक्सॉन लगभग 300km तक की रेंज देने में सक्षम है. जिसकी कीमत प्रति किलोमीटर 60 पैसे के करीब होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here