एक कमरे के घर में रहने पर मज़बूर है प्रत्युषा बनर्जी के माता पिता, बोले बेटी के इंसाफ के लिए सारा पैसा खर्च कर दिया लेकिन इंसाफ नहीं मिला- जानिए क्या हुआ था 

    0
    971

    कलर्स पर आने वाले टीवी सीरियल बालिका वधु से पहचान बनाने वाली दिवगंत अभिनेत्री प्रत्युषा बनर्जी का जन्म 10 अगस्त 1991 को जमेशदपुर झारखण्ड में हुआ था। प्रत्युषा ने टीवी इंडस्ट्री में अपनी शुरुआत रक्त संबंध में एक सपोर्टिंग रोल से की थी। जिसके बाद साल 2010 में इन्हे बालिका बधु में आनंदी का किरदार करने का मौका मिला और उसी से इन्हे काफी पहचान मिली थी।

    टीवी इंडस्ट्री की काफी पॉपुलर दिवंगत एक्ट्रेस प्रत्युषा बनर्जी तो इस दुनिया को छोड़कर हमेशा के लिए चली गईं, लेकिन उनके पीछे रह गए उनके मां-बाप। जो अपनी बेटी को इंसाफ दिलाने की चाहत में सब कुछ लुटा बैठे हैं। आज उनकी हालत बद से बदतर हो गई है। एक इंटरव्यू में उन्होंने अपने तंग हालात को लेकर बताया कि कितनी मुश्किलों से घिरी है उनकी ज़िंदगी।

    टीवी जगत के सबसे पॉपुलर सीरियलों में से एक ‘बालिका वधू’ के दूसरे सीजन की शुरुआत जल्द ही होने जा रही है। बाल विवाह पर बेस्ड इस सीरियल ने लोगों का खूब दिल जीता है। सीरियल का हर किरदार लोगों के दिलों में अपनी खास जगह बना गया। फिर चाहे आनंदी हो, जगिया हो या फिर दादीसा ही क्यों ना हो। सीरियल में छोटी आनंदी का रोल अविका गौर ने प्ले किया था, जबकि बड़ी आनंदी के किरदार को प्रत्युषा बनर्जी ने निभाया था।

    प्रत्युषा ने आनंदी के किरदार में पूरी तरह से जान डाल दी थी। आज के समय में जब भी सीरियल ‘बालिका वधु’ की बात आती है, तो हर किसी की आंखें प्रत्युषा को याद कर नम हो जाती हैं। पता नहीं एक्ट्रेस ने ज़िदगी का ऐसा कौन सा बुरा पहलू देख लिया था, कि छोटी सी उम्र में ही, जबकि उनका करियर काफी पीक पर था, इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह गईं।

    प्रत्युषा बनर्जी की मौ”त को साढ़े पांच साल के करीब बीत चुका है, लेकिन मौ’त की गुत्थी अब तक सुलझ नहीं पाई है। हालांकि कहा तो यही जाता है, कि एक्ट्रेस ने सुसाइड कर लिया था। लेकिन प्रत्युषा के माता-पिता इस बात को मानने से साफ तौर पर इनकार करते हैं। उनका कहना है कि प्रत्युषा ने सुसाइड नहीं किया, बल्कि उसका मर्डर हुआ था।

    प्रत्युषा के माता-पिता अपनी बेटी को इंसाफ दिलाना चाहते हैं, जिसके लिए वो कोर्ट में केस लड़ रहे हैं। उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया कि, केस लड़ते-लड़ते हमारी हालत खराब हो गई है, हम पूरी तरह से लुट चुके हैं। हालात ऐसे बन गए हैं, कि वो अब एक-एक पैसे को मोहताज़ हैं। उनकी बेटी प्रत्युषा ही थी जिसने उन्हें फर्श से अर्श तक पहुंचाया था, लेकिन अब उसी बेटी ले लिए सब कुछ गंवा बैठे हैं। उनकी गरीबी का आलम ये है कि किसी तरह से एक ही कमरे में रहकर गुजारा करने को मजबूर हैं।

    प्रत्युषा के पिता शंकर बनर्जी और उनकी मां अब बड़ी मुश्किल से अपनी ज़िंदगी काट रहे हैं। उनकी मां एक चाइल्ड केयर सेंटर में काम कर थोड़े-बहुत पैसों का इंतजाम काफी मुश्किल से कर पाती हैं। जबकि प्रत्युषा के पिता कहानियां लिखते रहते हैं, इस उम्मीद में कि कहीं कुछ बात बन जाए और ज़िंदगी की गाड़ी सही ट्रैक पर चल सके।

    बता दें कि 1 अप्रैल 2016 को मुंबई स्थित अपार्टमेंट में प्रत्युषा बनर्जी मृत पाई गई थीं। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट में ये कहा गया था कि उनकी मौ,त दम घुटने की वजह से हुई है। ऐसे में प्रत्यूषा के माता-पिता ने एक्ट्रेस के बॉयफ्रेंड राहुल राज सिंह पर आरोप लगाया था, कि उसी ने सुसाइड के लिए प्रत्युषा को उकसाया। बाद में राहुल राज सिंह को कोर्ट की ओर से अग्रिम जमानत दे दी गई। कुछ दिनों बाद राहुल ने अभिनेत्री सलोनी शर्मा से शादी भी कर ली।

    दिवगंत अभिनेत्री प्रत्युषा बनर्जी के बारे में जानकर आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके बताना न भूले और अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो इसे अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर कर सकते है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here