शादी करके दुल्हन को हेलीकॉप्टर से लाया दूल्हा, दहेज़ में रखी इतनी मांग, सब हुए हैरान

    0
    1265

    राजस्थान के सीकर जिले में एक युवक द्वारा महज 50 किलोमीटर दूर गांव से दुल्हन को लाने के लिए हेलीकॉप्टर ले जाना सुर्खियां बटोर रहा है। युवक जब गांव पहुंचा तो उसे देखने आसपास के गांव तक के लोग पहुंच गए। परिजनों ने भी उत्साह से बेटी को हेलीकॉप्टर में विदा किया। जानकारी के अनुसार रानोली निवासी मनीष यादव पुत्र कैलाश यादव की रविवार रात को शादी हुई थी। जिसमें मनीष दुल्हन को लेने हेलीकॉप्टर से दुल्हन किरण यादव के अरणियां गांव स्थित घर पहुंचा। शादी की रस्में पूरी होने के बाद सोमवार को हेलीकॉप्टर से ही दुल्हन लेकर अपने घर लौटा। जिन्हें देखने के लिए ग्रामीणों का हुजूम उमड़ पड़ा। शादी में वर पक्ष द्वारा दहेज नहीं लेना भी चर्चा में रहा।

    एक रुपये व नारियल में विदा हुई बहु, ससुर ने कहा घर की लक्ष्मी है बहु- मनीष व किरण की शादी बिना दहेज के होना भी चर्चा में है। जानकारी के अनुसार मनीष के परिवार ने किरण के परिवार से दहेज लेने से साफ मना कर दिया था। ऐसे में किरण शगुन के एक रुपये व नारियल के साथ ही घर से विदा हुई। मनीष के पिता कैलाश यादव का कहना है कि उनके लिए बहु किरण मां लक्ष्मी के समान है। जिसका घर में अच्छा स्वागत करने की इच्छा थी। जो हेलीकॉप्टर से बहु को लाने पर पूरी हो गई।

    दुबई रहता है परिवार, पिता की थी इच्छा- मनीष के परिवार का दुबई में कारोबार है। इंजीनियर मनीष की खुद की एक कंपनी है। पिता कैलाश यादव भी दुबई साथ रहते हैं। कैलाश यादव की इच्छा थी कि अपने बेटे की शादी में हेलीकॉप्टर से ही बेटा दुल्हन के घर पहुंचे और दुल्हन लेकर हेलीकॉप्टर से ही लौटे। इसी को लेकर उसने अपने बेटे की शादी में हेलीकॉप्टर मंगवाया। शादी में पूर्व केंद्रीय केबिनेट मंत्री सुभाष महरिया, पूर्व राज्य चिकित्सा मंत्री बंशीधर बाजिया, कांग्रेस नेता बालेंदु सिंह शेखावत, सुभाष मील समेत कई राजनेताओं ने भी शिरकत की।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here