स्कूल की टूटी खुली छोड़ दी थी टीचर ने, महीनों के बाद 20 लाख रुपये बिल आया पानी विभाग से

    0
    2078

    अनुशासन के मामले में दुनिया भर में जापान की मिसाल दी जाती है. हालांकि जापान से भी कई बार ऐसी घटनाएं सामने आती हैं, जिन्हें सुनकर हम दंग रह जाते हैं. कुछ ऐसा ही हुआ है जापान के एक स्कूल में, जहां टीचर ने पानी की टंकी को खुला छोड़ दिया, जिसकी वजह से स्कूल के पास 20 लाख रुपये का वॉटर बिल पहुंच गया.

    अब तक स्कूल को उस टीचर के बारे में पता नहीं चल पाया है, जिसने पानी की टंकी को महीनों तक खोले रखा लेकिन बिल के मु्ताबिक टंकी जून के अंत से सितंबर की शुरुआत तक खुली रही है और जब भी पानी सप्लाई हुआ, वो बहता रहा. एएफपी की रिपोर्ट के मुताबिक कई बार स्टाफ की ओर से टंकी को बंद भी किया जाता रहा, लेकिन आरोपी टीचर इसे दोबारा खोल दिया करता था.

    स्विमिंग पूल में भरता रहता था पानी- रिपोर्ट्स के मुताबिक क्लोरीन और फिल्टरिंग मशीन के ज़रिये स्विमिंग पूल का पानी लगातार साफ किया जाता है, लेकिन टीचर के दिमाग में ये खतरनाक आइडिया आया कि स्विमिंग पूल में लगातार नया पाननी भरने की वजह से इसमें कोरोना का इंफेक्शन नहीं होगा. स्थानीय एजुकेशन बोर्ड के अधिकारी अकीरा कोजिरि ने बताया कि कई बार इस टंकी को बंद करने के लिए कई लोग आते थे, लेकिन जल्दी ही इसे आरोपी टीचर दोबारा खोल दिया करता था. 2 महीने के अंदर स्विमिंग पूल में करीब 4 हज़ार टन पानी भरा और बहा. एक अंदाज़े के मुताबिक इतने पानी में कुल 11 स्विमिंग पूल भरे जा सकते हैं.

    20 लाख का बिल देख चकराया स्कूल- पानी की इतनी बर्बादी का पता तब चला जब जापान की योकोसुका स्थानीय अथॉरिटी की ओर से 3.5 मिलियन येन बिल की डिमांड की जा रही है, जिसे टीचर और 2 सुपरवाइज़र्स को मिलकर देना है. इससे पहले न्यूजर्सी में भी ऐसा मामला आया था जहां करीब 2 साल के बच्चे ने अपनी मां के फोन से करीब डेढ़ लाख की शॉपिंग कर डाली थी. बच्चे ने मां के शॉपिंग कार्ट में मौजूद सारी चीज़ें ऑर्डर कर दी थीं, जिनके घर पर डिलीवर होने के बाद उन्हें बच्चे से हुई गलती का एहसास हुआ.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here