राजस्थान के यह 8 स्टेशन बनेंगे वर्ल्ड क्लास, 2 स्टेशन के रीडेवलपमेंट का मॉडल हुआ तैयार

0
2051

मध्य प्रदेश के रानी कमलापति रेलवे स्टेशन वर्ल्ड क्लास फैसिलिटी वाला माडल स्टेशन है. यहां हवाई अड्डों जैसी लग्जरी सुविधाएं हैं. अब उत्तर पश्चिम रेलवे भापोल स्टेशन की तर्ज पर 8 स्टेशन क डेवलप करने जा रहा है. यहां भी पैसेंजर्स को एयरपोर्ट जैसी टॉप क्लास सुविधाएं मिलेंगे. इन स्टेशन को भी विश्व स्तरीय फैसिलिटी के साथ विकसित किया जाएगा. इसमें खास बात यह है कि इन 8 स्टेशन में से आधे को रेलवे विकसित करेगा तो आधे का री डवलपमेंट रेल लेंड डवलपमेंट अथॉरिटी के जरिए किया जाएगा.

उत्तर पश्चिम रेलवे की एक ट्वीट के मुताबिक यह सभी रेलवे स्टेशन सोलर एनर्जी से रोशन होंगे. करीब 2 हजार करोड़ रिपये में इन्हें विकसित किया जाएगा. इन 8 रेलवे स्टेशन में जयपुर, गांधीनगर, अजमेर और उदयपुर रेलवे स्टेशन का नाम शामिल है. इसी कड़ी में जोधपुर, जैसलमेर, आबूरोड और बीकानेर स्टेशन को भी डवलप किया जाएगा. Rail Land Development Authority की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक यह प्रोजेक्ट अभी प्लानिंग स्टेज पर हैं.

रेलवे से मिली जानकारी के मुताबिक उदयपुर, जयपुर के गांधीनगर और जयपुर जक्शन रेलवे स्टेशन को रीडवलप करने का पूरा प्लान तैयार किया जा रहा है. उदयपुर और गांधीनगर रेलवे स्टेशन का मॉडल भी तैयार हो चुका है. जयपुर स्टेशन पर काम करना अभी बाकी है. इन रेलवे स्टेशन को विकसित करने के लिए करीब 500 करोड़ से ज्यादा का खर्च किया जाएगा. रेलवे जोधपुर, जैसलमेर, अजमेर और बीकानेर स्टेशन का भी मॉडल तैयार करेगा.

केंद्र सरकार ने रेलवे स्टेशन को एयरपोर्ट की तरह पीपीपी मोड पर तैयार कर रहा है. रेलवे ने गांधीनगर, जयपुर, अजमेर और उदयपुर रेलवे स्टेशन को री डवलप करने की जिम्मेदारी उत्तर पश्चिम रेलवे को सौंपी है. ठीक इसी तरह जोधपुर, जैसलमेर और बीकानेर स्टेशन को री डवलप करने की जिम्मेदारी लैंड डवलपमेंट अथॉरिटी को दी है. इतना ही नहीं इस लिस्ट में पाली मारवाड़ स्टेशन का नाम भी जोड़ दिया गया है. माना जा रहा है कि इन स्टेशन को दो से तीन साल के भीतर तैयार किया जाएगा.

राजस्थान के इन 8 रेलवे स्टेशन पर पैसेंजर्स को वर्ल्ड क्लास फैसिलिटी मिलेंगी. इन सभी स्टेशन की बिल्डिंग काफी मॉर्डन होगी. यहां पार्किंग, लिफ्ट, एस्केलेटर, वीआईपी लाउंज और कैफेटेरिया होगा. यहां लोगों को किसी फाइव स्टार होटल जैसी सुविधाएं मिलेंगी. साथ ही यहां आने वाले लोगों को पार्किंग के लिए बड़ा शेड मिलेगा. यहां किसी एयरपोर्ट की तरह यात्रियों को एंट्री और एग्जिट के लिए अलग-अलग रास्ता भी मिलेगा.

राजस्थान में रेलवे स्टेशन डवलप होने के साथ टूरिज्म सेक्टर को भी बढ़ावा मिलेगा. स्टेशन प्रमुख शहरों से हाईस्‍पीड कॉरिडोर से भी आने वाले दिनों में जुड़ेंगे. यहां यात्रियों को अल्ट्रा मॉडर्न सुविधाएं मिलेंगी. स्टेशन पर सोलर एनर्जी का इस्तेमाल किया जाएगा. इमारतों को ग्रीन-बिल्डिंग फॉर्मूले से तैयार किया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here