बीमार पत्नी को अकेला तड़पता छोड़ गए थे यह अभिनेता, कई औरतों से की शादी

0
1562

बॉलीवुड के दिवगंत अभिनेता के निधन इस बुधवार को 34 वर्ष हो चुके है. उनका निधन 13 अक्टूबर, 1987 को मुंबई में हुआ था. भले ही वे आज इस दुनिया में नहीं है लेकिन उनकी गायिकी और अदायगी को आज भी याद किया जाता है. उनका गाया हुआ हर गाना सुपरहिट रहा. उन्होंने फिल्म की हर विधा में अपना हाथ आजमाया और सफल साबित हुए. इसके अलावा किशोर कुमार को उनकी बिंदास शख्सियत के लिए जाना जाता है. फिल्म सेट से लेकर निजी जिंदगी में वह बहुत मनमौजी किस्म के इंसान थे. उन्होंने लाइफ में 4 शादियां की. हालांकि, उनकी मैरिड लाइफ ज्यादा सफल नहीं रही.

1929 को खंडवा में जन्में किशोर कुमार का असली नाम आभास कुमार गांगुली था, लेकिन प्यार से उन्हें गंगोपाध्याय बुलाया जाता था. किशोर कुमार ने अलग-अलग भाषा में करीब 1500 से ज्यादा गाने गाए हैं.

बता दें कि किशोर कुमार अपनी लाइफ में 4 शादियां की थी. इनमें से मात्र एक पत्नी लीना चंदारवकर ही जिंदा है बाकी सभी का निधन हो गया है. किशोर ने 27 साल की मधुबाला से धर्म बदलकर शादी की थी. लेकिन शादी के बाद उन्होंने मधुबाला को धोखा दिया था.

मधुबाला की बहन मधुर भूषण ने एक इंटरव्यू में बताया था- जब मधुबाला बीमार थीं और हम इलाज के लिए लंदन जाने की प्लानिंग कर रहे थे. उस दौरान किशोर कुमार ने उनको प्रपोज किया. पिता चाहते थे कि मधुबाला डॉक्टर्स की राय लें और पूरी तरह ठीक होने के बाद ही शादी करें. लेकिन दिलीप कुमार से मिले धोखे से गुस्साई मधुबाला ने तुरंत किशोर कुमार से शादी कर ली.

उन्होंने बताया था- 27 साल की उम्र में 1960 में इनकी शादी हुई. जैसे ही डॉक्टर्स ने बताया कि वे ज्यादा दिनों तक नहीं जी पाएंगी, तब किशोर भाई ने मुंबई के कार्टर रोड में बंगला खरीदा, उन्हें वहां नर्स और ड्राइवर के साथ छोड़ दिया. चार महीने में एक बार मिलने आते थे. उन्होंने मधुबाला का फोन उठाना भी बंद कर दिया था. उन्होंने मधुबाला को धोखा दे दिया. वह अच्छे पति नहीं थे.

किशोर कुमार के करियर की शुरुआत तो कुछ खास नहीं थी. वे सिंगिंग में अपना करियर बनाना चाहते थे मगर उनके बड़े भाई चाहते थे कि वे एक्टिंग में आगे बढ़ें. इसी कशमकश में उनकी शुरुआती फिल्में फ्लॉप हो गईं क्योंकि एक्टिंग में उनका जरा भी मन नहीं लगता था. साथ ही उन्हें सिंगिंग में भी मौका नहीं मिल रहा था.

एक समय ऐसा आया कि उनकी कुछ फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाया. स्क्रीन पर उनका बिंदास अंदाज लोगों को पसंद आने लगा. इसके बाद किशोर का एक्टिंग में मन लगने लगा. फिर गाने का भी मौका मिला. इसके बाद से तो उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा.

किशोर कुमार की पर्सनालिटी में कुछ ऐसा था जो उन्हें दूसरों से एकदम अलग कर देता था. पैसों के मामले में भी किशोर पक्के थे. उनका एक ही फंडा था नो पेमेंट, नो वर्क. वे काम शुरू करने के पहले ही सारा पैसा ले लिया करते थे.

बता दें कि दोनों भाई यानी किशोर कुमार और आशोक कुमार के साथ 13 अक्टूबर का एक दुखद इत्तेफाक भी जुड़ा हुआ है. 13 अक्टूबर के ही दिन किशोर के बड़े भाई आशोक कुमार का जन्मदिन होता है. और यही वो दिन था जब किशोर कुमार का 58 साल की उम्र में निधन हो गया था.

किशोर कुमार के बारे में यह आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताइये. अगर आपके पास हमारे लिए कोई सवाल और सुझाव है तो आप हमें ईमेल के जरिये संपर्क कर सकते है. अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो इसे अपने सभी दोस्तों के साथ फेसबुक पर शेयर करना न भूले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here