पति से तलाक के बाद इस महिला ने एक साथ 14 बच्चे पैदा किये, पेट टंकी जैसा हो गया था

    0
    7709

    माँ बनने का एहसास हर एक स्त्री करना चाहती है. इस आर्टिकल में हम आपको एक ऐसी महिला के बारे में बताएंगे जिसके बारे में सुनकर आप सायद हैरान रह जाओगे. इस महिला ने एक साथ अपने 8 बच्चों को जन्म दिया . इतने सारे बच्चे एक साथ गर्भाशय में होने के कारण इस महिला का पेट गुब्बारे की तरह बड़ा हो गया था.

    बता दें कि महिला ने आईवीएफ तकनीक के द्वारा यह किया था. डॉक्टर ने महिला के गर्भाशय में एक साथ 12 बच्चों की भ्रूण रखे थे. इन 12 में से 8 ही जीवित जन्म लिए थे. यह घटना साल 2009 की है. अब यह बच्चे 12 वर्ष के हो चुके हैं. इस महिला ने इन बच्चों के 12 वे जन्मदिन पर इनकी कुछ तस्वीरें शेयर की है.

    बता दें कि यह महिला संयुक्त राज्य अमेरिका की निवासी है. 45 वर्षीय इस महिला का नाम नाद्या सुलेमान है. इन बच्चों के बाहरवे बर्थडे पर नाद्या सुलेमान ने अपना मां बनने का अनुभव सोशल मीडिया पर साझा किया है . उन्होंने बताया है कि एक साथ 8 बच्चों को गर्भ में बड़ा करना और उसके बाद उन बच्चों को परवरिश करके उनका पालन पोषण करना कितना अच्छा और अलग अनुभव है.

    आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इन 8 बच्चों जन्म देकर इनकी मां बनने से पहले ही नाद्या 6 बच्चों की मां बन चुकी थी . नाद्या के कुल 14 बच्चे हैं .बता दें कि नाद्या का उनके पति के साथ तलाक हो चुका है. अपने तलाक के बाद उन्होंने एलुमनी से आईवीएफ के माध्यम से बच्चों को जन्म दिया. और अब उनकी परवरिश कर रही है. यह भी बता दें कि मैं माइकल कामरबा जिसने इस महिला के कोख में एक साथ 12 भ्रूण को डाला था उसका लाइसेंस रद्द कर दिया गया है.

    नियम अनुसार कोई भी डॉक्टर आईवीएफ वाली महिला के गर्भाशय में एक साथ तीन से ज्यादा भ्रूण नहीं इनप्लांट कर सकता है . वही डॉक्टर का कहना यह है कि उन्हें बच्चों की मां यानी कि नाद्या द्वारा ही उसके गर्भ में 12 भ्रूण डालने के लिए बोला गया था. वहीं दूसरी और नाद्या कहती है कि डॉक्टर ने चालाकी से उन्हें बेवकूफ बनाया और इस तरीके से उनके गर्भाशय में 12 भ्रूण एक साथ डाल दिए.

    नाद्या की प्रेगनेंसी और डिलीवरी को 46 डॉक्टर और नर्सों की एक टीम द्वारा संचालित किया गया था. यह डिलीवरी बहुत अधिक कठिन थी. डिलीवरी केवल 31 हफ्तों में ही हो गई थी. इस दौरान नाद्या के 8 बच्चे ही जीवित पैदा हुए थे. आज नाद्या के बच्चे बड़े हो चुके हैं और अपनी मां का पूरा सपोर्ट करते हैं.

    नाद्या अपने इन 14 बच्चों की परवरिश बहुत अच्छी तरीके से कर रही है . वह बताती हैं कि उनका सारा दिन 14 बच्चों के लिए खाना बनाने मैं निकल जाता है. नाद्या के 14 बच्चों में से 13 बच्चे शाकाहारी है . नाद्या बच्चों की परवरिश करने के लिए बहुत मेहनत करती हैं और सभी को खुश रखने की कोशिश करती हैं.

    नाद्या के बारे में यह आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें निचे कमेंट करके जरूर बताइये. इस आर्टिकल आपको अपने सभी दोस्तों के साथ फेसबुक पर जरूर शेयर कीजिए. इस प्रकार के न्यूज़ पड़ने के लिए आप हमारे पेज को फेसबुक पर फॉलो कर सकते है.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here