यात्री ने जब ट्रैन में रोजा खोलने के लिए चाय मांगी तो, कैटरिंग वाले ने दिल छू लेने वाला काम किया

    0
    596

    हावड़ा-रांची शताब्दी एक्सप्रेस में सवार एक यात्री शाहनवाज अख्तर को मंगलवार को उस समय सुखद आश्चर्य हुआ, जब ट्रेन में उसे इफ्तार की पेशकश की गई क्योंकि वह अपना रोजा खोलने वाला था. एक अधिकारी ने कहा कि आईआरसीटीसी हिंदू यात्रियों के लिए नवरात्रि के दौरान उपवास भोजन परोसता है, लेकिन रमजान के दौरान ऐसी कोई सेवा उपलब्ध नहीं है.

    शाहनवाज ने ट्विटर पर लिखी ये बात- शाहनवाज अख्तर ने ट्विटर पर लिखा, ‘इफ्तार के लिए #IndianRailways का शुक्रिया. जैसे ही मैं धनबाद में हावड़ा शताब्दी में सवार हुआ, मुझे अपना इफ्तार मिला. मैंने पेंट्री मैन से चाय लाने का गुजारिश की क्योंकि मैंने रोजा रखा हुआ है. उसने यह पूछकर पुष्टि की कि क्या आप रोजा हैं? मैंने हां में सिर हिलाया. इसके बाद किसी और शख्स ने इफ्तार के लिए एक पैकेट सर्व किया.’ ट्रेन में उन्हें परोसे जाने वाले भोजन की एक तस्वीर भी पोस्ट की.

    आईआरसीटीसी के अधिकारियों ने कहा कुछ ऐसा- आईआरसीटीसी के अधिकारियों ने कहा कि शाहनवाज अख्तर के लिए भोजन की व्यवस्था ऑन-बोर्ड कैटरिंग मैनेजर ने व्यक्तिगत रूप से की थी. आईआरसीटीसी के ऑन-बोर्ड कैटरिंग सुपरवाइजर प्रकाश कुमार बेहरा ने कहा, ‘कर्मचारी अपना रोजा खोलने वाला था और रोजा रखने वाला यात्री भी उसी कोच में चढ़ गया. उसने बताया कि उसने भी रोजा रखा हुआ है, इसलिए कर्मचारियों ने उसके साथ इफ्तार साझा किया. यह बुनियादी मानवता है. कर्मचारियों को नेटिजन्स से प्रशंसा मिली. लोगों ने उनकी भी तारीफ की, जिन्होंने यह बताया कि अख्तर को बोर्ड के कर्मचारियों को धन्यवाद देना चाहिए, न कि रेलवे को.

    रेलवे की टिकट, खान-पान और टूरिज्म ब्रांच IRCTC ने नवरात्रि के दौरान यात्रियों के लिए एक विशेष मेनू पेश किया है. विशेष मेनू में बिना प्याज-लहसुन वाले खानों को पकाया जाता है. खानों को सेंधा नमक के साथ तैयार किया जाता है, जो नवरात्रि के व्रत रखने वाले लोगों के लिए एक जरूरी माना जाता है.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here