रक्षाबन्धन पर्व पर महिलाएं रोडवेज बसों में करेंगी निशुल्क यात्रा, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रखा प्रस्ताव

रक्षाबन्धन पर्व पर महिलाएं राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की बसों में निशुल्क यात्रा कर सकेंगी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने निशुल्क यात्रा के लिए प्रस्ताव का अनुमोदन किया है। गहलोत के इस निर्णय से बालिकाओं एवं महिलाओं को रक्षाबन्धन के दिन 11 अगस्त (गुरूवार) को राजस्थान रोडवेज की समस्त श्रेणी की बसों (वातानुकूलित, वॉल्वो एवं अखिल भारतीय अनुज्ञा पत्रों पर संचालित बसों के अतिरिक्त) में राजस्थान राज्य की सीमा में निशुल्क यात्रा सुविधा मिलेगी। रोडवेज को उक्त सुविधा के व्यय का पुनर्भरण राज्य सरकार की ओर से किया जाएगा।

राजस्थान सरकार ने इससे पहले महिला दिवस पर भी महिलाओं को निशुल्क यात्रा का तोहफा दिया था। तब भी पूरे प्रदेशभर में हजारों महिलाओं और युवतियों ने रोडवेज बसों में निशुल्क यात्रा की थी। अब जल्द ही जेसीटीएसएल बसों में भी रक्षाबंधन पर निशुल्क यात्रा की सुविधा बालिकाओं एवं महिलाओं को दी जा सकती है। जेसीटीएसएल पर भी पूर्व में इस तरह की निशुल्क यात्रा की सुविधा देता आया है।

रोडवेज की ओर से विशेष व्यवस्थाएं- रक्षाबंधन के अवसर पर रोडवेज की बसों में ज्यादा भीड़ रहती है। महिलाएं अपने पीहर जाने के लिए अलसुबह से ही सिंधी कैंप बस स्टैंड पर पहुंचती हैं, ऐसे में रोडवेज प्रशासन की ओर से महिलाओं के लिए विशेष व्यवस्थाएं करेगा ताकि महिलाओं को लाइन में खड़े रहकर परेशान नहीं होना पड़े। रोडवेज बसों में बैठाने के लिए अलग से कर्मचारी लगाए जाएंगे।

Leave a Comment